42 वें संविधान संशोधन में क्या जोड़ा गया?

42 वें संविधान संशोधन में क्या जोड़ा गया – नमस्कार दोस्तो! स्वागत हैं आपका Techly360.com हिन्दी ब्लॉग में. और आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे 42 Ve Samvidhan Sanshodha Me Kya Joda Gaya Hai तो अगर आपके मन मे भी यही सवाल चल रहा था, तो इस सवाल का जवाब मैंने नीचे उपलब्ध करवा दिया हैं.

दोस्तों आप मे से बहुत सारे दोस्तों ने इस सवाल का जवाब जानने के लिए गूगल असिस्टेंट से जरूर पूछा होगा की “ओके गूगल 42 वें संविधान संशोधन में क्या जोड़ा गया? और गूगल असिस्टेंट आपको इस सवाल से जुड़ी कई और सवाल और उसका उत्तर आपके साथ साझा करता हैं.

क्या, कैसे, कहाँ, क्यों, है, आदि, जाने

42 वें संविधान संशोधन में क्या जोड़ा गया?

दोस्तों! 42वाँ संविधान संशोधन अधिनियम 1976 के तहत भारतीय संविधान में तीन नए शब्द ‘समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष एवं अखंडता’ जोड़े गए. इसमें राष्ट्रपति को कैबिनेट की सलाह की लिये बाध्यता का उपबंध शामिल किया गया हैं. तथा इसके तहत संवैधानिक संशोधन को न्यायिक प्रक्रिया से बाहर किया गया और नीति निर्देशक तत्त्वों को व्यापक बनाया गया.

इन्ही से संबंधित खोजें गए प्रश्न

42 वें संविधान संशोधन में क्या जोड़ा गया?
42 वें संविधान संशोधन में क्या क्या हुआ?
42 वें संविधान संशोधन क्या है?
42 वें संविधान संशोधन में कौन कौन से शब्द जोड़े गए?
42वें संशोधन अधिनियम में क्या जोड़ा गया?
42 ve samvidhan sanshodhan me kya joda gaya hai?
42 ve samvidhan sanshodhan me kya kya hua?
42 ve samvidhan sanshodhan kya hai?


निष्कर्ष दोस्तों आपको यह “42 वें संविधान संशोधन में क्या जोड़ा गया – 42 Ve Samvidhan Sanshodha Me Kya Joda Gaya Hai का आर्टिकल कैसा लगा? निचे हमे कमेंट करके जरुर बताये. साथ ही इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर जरुर करे.