Bounce Rate क्या है? बाउंस रेट को कैसे कम करे?

नमस्कार दोस्तो! स्वागत है आपका Techly360 ब्लॉग में। तो आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले है Bounce Rate Kya Hai in Hindi के बारे में। की आखिरकार इस बाउंस रेट का मतलब क्या होता है? साथ ही हम जानेंगे इस Bounce Rate को कैसे कम करे के बारे में पुरे विस्तारपूर्वक| So बने रहिये इस Article में और जानिए पूरे Details में।

बाउंस रेट, बाउंस रेट, बाउंस रेट इस शब्द से लोग परेशान हो चुके है| इस बाउंस रेट का इस्तेमाल लगभग सभी अलग अलग सेक्टर में होता है| लेकिन अभी हम बात इन्टरनेट की दुनिया के बारे में कर रहे है| क्योकि हम सभी इन्टरनेट वेब में ही कार्यरत है| और ऐसे में हम सभी को यह Bounce Rate की परेशानियों का सामना करना पड़ता है|

Bounce Rate क्या होता है?

Bounce Rate Kya Hai, Bounce Rate Kaise Kam Kare
Bounce Rate

अगर आप Blogging करते है तो आपने इस बाउंस रेट के बारे में जरुर से सुना होगा| तो ऐसे में लोग मुझसे पूछते रहते है की Bounce Rate क्या है (What is Bounce Rate in Hindi). तो इसका उत्तर बहुत ही आसान भी है और थोडा कठिन भी|

बाउंस रेट को हम एक साधारण से भाषा में परिभाषित कर सकते है| तो मैं आपको बता दूँ की इन्टरनेट पर स्तिथ किसी वेबसाइट के किसी पेज पर किसी यूजर द्वारा कितनी बार विजिट किया गया इसका एक गणितीय हिसाब है| और इसका हिसाब करने बाद हम इसे प्रतिशत (%) में देख पाते है|

वही दुसरे भाषा में बोले तो किसी Particular Website का ऐसा Visitors जो Website के किसी एक Page पर आकर उसी पेज से ही वापिस हो जाता है| इसे हम बाउंस रेट के नाम से जानते है|

Also Read –

बाउंस रेट ज्यादा क्यों होता है?

मैं आपको सबसे आसन तरीके में बताने वाला हूँ की आखिरकार हमारे website की Bounce Rate Increase कैसे होती है? तो इसका जवाब है की आपके वेबसाइट के किसी एक पेज पर कोई विजिटर आकार बिना आपके वेबसाइट के दुसरे पेज पर गये उसी पेज से जब वापस चला जाता है तो यह हाई बाउंस रेट को बढ़ाने में सबसे अहम् रोल अदा करता है| तो आपको हमेशा से ध्यान देना होगा की आप ऐसा Content लिखे जिससे की कोई भी user आपके पेज पर आने के बाद वो अआपके वेबसाइट के दुसरे पेज पर भी जाये|

Safe Bounce Rate कितना होना चाहिए ?

जैसा की मैंने आपको उपर बताया है की बाउंस रेट को हम 1% से 100% तक नापते है| तो ऐसे में अब सभी New Bloggers ये सोचने में लग जाते है की आखिरकार हमारे वेबसाइट के लिए Average Bounce Rate कितना होना चाहिए? तो निचे मैंने आपको इसके बारे में विस्तारपूर्वक समझाने की कोशिश की है|

Site CategoryBounce Rate
Content websites40-60%
Lead Generate Websites30-50%
Blogs55-75%
Retail Websites20-40%
Services Provide Websites 10-30%
Landing Pages70-90%

तो अगर आप Safe Bounce Rate के बारे में जानना चाहते है तो मैं आपको बता दूँ आपके ब्लॉग के लिए सुरक्षित बाउंस रेट 40-60% तक है|

Content websites – अगर आपका एक Content वाला ब्लॉग है तो लगभग एक कंटेंट ब्लॉग का एवरेज बाउंस रेट करीब करीब 40% से लेकर 60% तक होता है| यह आंकड़ा अधिकतम ब्लॉग सर्वे द्वारा निकाला गया है|

Lead Generate Websites – अगर आप एक लीड जनरेशन वेबसाइट रन करते हो तो ऐसे में आपके वेबसाइट का एवरेज बाउंस रेट करीब 30% से लेकर 50% तक होता है|

Blogs – वही अगर हम Blogs की बात की करे तो जैसे हम कई प्रकार के ब्लॉग्स चलाते है| जैसे की Blogging, Digital Marketing, Movie Review आदि जैसे बहुत प्रकार के ब्लॉग्स मौजूद है| तो ऐसे ब्लॉग का एवरेज Bounce Rate 55% से लेकर 75% तक होता है|

Retail Websites – अब जानते है हम रिटेल वेबसाइट के बारे में| तो वैसे तो ऐसे websites में बहुत सारे प्रोडक्ट्स होता है| तो लोग 1 प्रोडक्ट को देखने के साथ साथ दुसरे प्रोक्ट्स को भी देखते है| तो इसीलिए इन Retail Website या Woocommerce Websites की एवरेज बाउंस रेट 20% से 40% के बिच में होता है|

Services Provide Websites – ये ऐसे websites होते है जो की लोगो को services provide कराते है| जैसे की आजकल Blogging Sector में बात करे तो आजकल SEO Tools Providers की भरमार है| तो ऐसे वेबसाइट ही सर्विस प्रोवाइड करते है| तो इन वेबसाइट की एवरेज बाउंस रेट 10% से लेकर 30% तक होता है|

Landing Pages – लैंडिंग पेज जो की Digital Marketing का सबसे जरुरी और अहम हिस्सा है| तो लैंडिंग पेज पर अधिकतम ट्रैफिक Advertisement द्वारा यानि की Social Traffic होता है| तो ऐसे में इन लैंडिंग पेज की एवरेज बाउंस रेट लगभग 70% से लेकर 90% तक होता है|


Also Read –


Bounce Rate का SEO Effect

अब बात करते है इस बाउंस रेट का seo पर क्या प्रभाव पड़ता है? तो मैं आपको बता दूँ की किसी भी Website या Web Page का Rank करने के लिए किसी Search Engine के सामने उस वेबसाइट का Bounce Rate Stats काफी मददगार साबित होता है|

वही अगर आपके ब्लॉग या वेबसाइट का बाउंस कुछ ज्यादा ही अधिक है| तो ऐसे में Google जैसे सर्च इंजन अपने अल्गोरिथम द्वारा स्वत: ही उस वेबसाइट की रैंकिंग को गिरा देते है| क्योकि Google के कई अल्गोरिथम के अनुसार रैंकिंग के लिए बाउंस रेट का एवरेज होना अतिआवश्यक है|

अगर आप अपने या किसी दुसरे के वेबसाइट का SEO कर रहे है| तो ऐसे में आपको सबसे पहले अपने वेबसाइट का Bounce Rate Average करना बहुत ही जरुरी है| तो अगर आप अपने वेबसाइट की रैंकिंग को इम्प्रूव करना चाहते है तो बाउंस रेट कण्ट्रोल करो|

Bounce Rate को कम कैसे करें?

बहुत सारे लोगो को एक ही बात सताती है की Bounce Rate Kam Kaise Kare? तो अब हम बात करते है की हम अपने वेबसाइट या ब्लॉग के Bounce Rate Decrease यानि बाउंस रेट को कम कैसे कर सकते है?

तो ऐसे में मैंने निचे आपके लिए कुछ बेहतरीन तरकीब बताया है जिसे अपने ब्लॉग पर अप्लाई करके आप अपने ब्लॉग के बाउंस रेट को कम कर सकते है| तो निचे दिए सभी स्टेप्स को फॉलो करे|

1. Improve Website Loading Speed

जैसा की आपको पता है की अभी के समय में गूगल जैसे सर्च इंजन पर हद से ज्यादा competition बढ़ चूका है| और ऐसे में गूगल उन्ही वेबसाइट को Top 10 में रखना ज्यादा पसंद करता है जिस वेबसाइट को लोडिंग स्पीड बेहतर हो| तो ऐसे में अब बाउंस रेट में भी स्पीड matter करने लगा है|

जैसा की कोई यूजर किसी web page पर आता है और उस वेबसाइट को लोड होने में ज्यादा समय लेता है तो ऐसे में वो यूजर जल्दी से उस पेज से पीछे चला जाता है| जिससे उस वेबसाइट का Bounce Rate काफी बढ़ जाता है| तो आपको सबसे पहले अपने वेबसाइट की स्पीड इम्प्रूव करनी होगी|

2. Web Page Layout (Design)

दूसरी बड़ी बात है बाउंस रेट को कम करने के लिए वेबसाइट का User Interface यानि की Web Page Layout सही होना चाहिए| अपने अक्सर देखा होगा की बहुत से ऐसे वेबसाइट होते है जिनके पेज का लेआउट विजिटर को पसंद नही आता है| और वो यूजर फिर से बैक चला जाता है| तो ऐसे में आपको एक Neet & Clean Page Design बनाना होगा|

3. Quality content

अब सबसे अहम बात आती है की आखिरकार यूजर आपके वेबसाइट पर ज्यादा देर तक क्यों रुकेगा? तो अगर आप अपने वेबसाइट पर Quality content/Articles उपलब्ध करवाते है तो यूजर आपके वेबसाइट पर जयादा समय बिताएगा| जिससे की Average Duration Time अच्छा रहेग| तो आपको अपने वेबसाइट में अच्छे से अच्छा Quality content Provide करना है|

4. Internal Linking

अगर आपको अपने वेबसाइट की बाउंस रेट को एवरेज यानि की सेफ एरिया में रखना है तो अपने वेबसाइट में Internal Linking जरुर करे| क्योकि इसी मेथोड्स की वजह से आपका बाउंस रेट कम रहता है| क्योकि कोई भी व्यक्ति आपके वेबसाइट पर आता है और इंटरनल लिंकिंग पर क्लिक करने से आपके वेबसाइट की बाउंस रेट कम रहता है| तो आप ये तरीका जरुर इस्तेमाल करे|

5. Responsive Web Page (Mobile Friendly)

अब मैं आपको बता दूँ की जैसा की गूगल पहले ही साफ़ साफ़ बता चुका है की अगर आपका वेबसाइट Responsive यानि की Mobile Friendly है तो आप जल्दी से Top 10 में Rank करने के योग्य है| तो ऐसे ही मोबाइल फ्रेंडली web पेज होने से वेबसाइट का बाउंस रेट भी कम होता है|


निष्कर्ष – आपको यह Google HummiBounce Rate क्या है? बाउंस रेट को कैसे कम करे हिंदी में! का आर्टिकल कैसा लगा।आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं।या किसी प्रकार का Suggestion देना भी चाहते है तो आप नीचे Comment Box में अपनी राय हमारे साथ Share कर सकते है।

Bounce Rate क्या है? बाउंस रेट को कैसे कम करे?

Leave a Comment

x
Share via
Copy link